एमपी लाडली लक्ष्मी योजना छात्रवृति (MP Ladli Laxmi Yojana Scholarship)

एमपी लाडली लक्ष्मी योजना छात्रवृति | MP Ladli Laxmi Yojana Scholarship 

लाडली लक्ष्मी योजना में बालिकाओ को दी जाएगी छात्रवृति

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जहुहान जी मध्य प्रदेश ने बच्चे को आर्थिक सहायता देने के उद्देश्य से लाडली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की थी । इस योजना के तहत 21 सितंबर 2021 को मुख्यमंत्री द्वारा जन कल्याण एवं सुराज अभियान के तहत खंडवा प्रांत के पंधाना में लाडली लक्ष्मी योजना के तहत 75,961 बालिकाओं को 21 करोड़ रुपए की छात्रवृत्ति दी जाएगी। इसके अलावा प्रदन मांट्री मातृ वंदना योजना के तहत 25 हजार गर्भवती महिलाओं और छात्रों को 5 करोड़ की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। 52 जिलों में 32 प्रांतों के 103 आंगनबाड़ी केंद्रों और 10 हजार फीडिंग पार्कों के नवनिर्मित भवन खोले जाएंगे। मुख्यमंत्री इस कार्यक्रम के लाभार्थियों से भी बातचीत करेंगे। इस कार्यक्रम का दूरदर्शन और सोशल मीडिया के माध्यम से सीधा प्रसारण किया जाएगा।

कॉलेज में एडमिशन लेने पर एकमुश्त राशि का भुगतान

रक्षा बंधन के मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की बेटियों को तोहफा दिया। सीएम ने कॉलेज में एडमिशन लेने वाली लड़कियों के लिए लाडली लक्ष्मी योजना मध्यप्रदेश ऑनलाइन करने की घोषणा की थी। एमपी लाड़ली लक्ष्मी योजना का ऑनलाइन एप | MP Ladli Laxmi Scheme के तहत आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह वित्तीय सहायता कुल ₹20,000 के लिए होगी। प्रधानमंत्री ने ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने इस बात की भी पुष्टि की कि मध्य प्रदेश सरकार लड़कियों के लिए उच्च शिक्षा के पूरे इंतजाम करेगी। इसलिए आवश्यक वित्तीय व्यवस्था मध्यप्रदेश सरकार द्वारा की जाएगी।

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने जानकारी प्रदान की कि महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों को सरकारी गारंटी और कम ब्याज वाले ऋण देने के लिए व्यवस्थाएं चल रही हैं । इसके अलावा अगर संपत्ति राज्य की महिलाओं के नाम पर है तो रजिस्ट्रेशन फीस सिर्फ 1% होगी। इस फैसले से महिलाओं के लिए पंजीकरण दर में 10 फीसद की बढ़ोतरी हुई है।

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना को जोड़ा जाएगा शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार से

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि लाडली लक्ष्मी योजना ने राज्य की लड़कियों को आर्थिक सहायता देना शुरू कर दिया है ताकि लिंगानुपात में सुधार किया जा सके। अब इस योजना को मध्यप्रदेश राज्य सरकार द्वारा शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार से जोड़ा जाएगा। यह टिप्पणी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। कि सरकार द्वारा योजना का एक नया रूप प्रदान किया जाएगा । इस योजना के तहत अब सभी पंजीकृत बालिकाओं को शिक्षा जारी रखने के लिए ऋषि वर्ग का प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिसमें इसका पोर्टल भी विकसित होगा। अब बच्चा पहली से बारहवीं कक्षा तक प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेगा।

इसके बावजूद, पंजीकृत बच्चे को व्यक्तिगत विकास के लिए एनसीसी और एनएसएस जैसी गतिविधियों से भी जोड़ा जाएगा। पंजीकृत बच्चे की 12वीं कक्षा पास करने के बाद बालिकाओं की रुचि, क्षमता और क्षमता को ध्यान में रखते हुए उच्च शिक्षा या तकनीकी व्यावसायिक शिक्षा के लिए मार्गदर्शन और प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना निधि का गठन

इसके लिए राज्य सरकार द्वारा एक निधि बनाया जाएगा, जिसे मध्यप्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना निधि के नाम से जाना जाएगा। इस कोष में, राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक लाभार्थी के लिए पंजीकरण के बाद, ₹30000 जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जमा किया जाएगा । इस राशि पर डाकघर राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र पर ब्याज के साथ शेष राशि भी इस योजना में शामिल की जाएगी। इसकी परवाह किए बिना यदि इस राशि की आवश्यकता होगी तो भुगतान राशि राज्य सरकार द्वारा निपटान के लिए प्रदान की जाएगी। महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रधान सचिव की अध्यक्षता में यह कमेटी बनाई जाएगी। इस समिति में वित्त विभाग के सचिव और संस्थागत वित्त निदेशक को शामिल किया जाएगा। इसके अलावा निधि की समीक्षा के लिए समिति का सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।

बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा महत्वपूर्ण प्रशिक्षण

सरकार प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण और सलाह की व्यवस्था भी करेगी। बच्चे को स्टार्ट-अप, छोटे और मझोले आकार के उद्योगों और निजी क्षेत्र के रोजगार से जोड़ने के लिए सभी महत्वपूर्ण प्रशिक्षण और कौशल विकसित किए जाएंगे । मध्यप्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना के तहत लेवल 12 के बाद बच्चे को पढ़ाई के लिए 20 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी। बच्चे की 21 साल की उम्र पूरी होने पर यह राशि ₹100000 से लेकर शेष ₹80000 तक भी चुकाई जाएगी । इसके अलावा इस व्यवस्था को स्वास्थ्य और पोषण से जोड़ने जैसे बाल टीकाकरण, एनीमिया आदि की भी व्यवस्था की जाएगी। बच्चे के फूड बेस की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जाएगी।

  • बच्चे के माता-पिता को सुकन्या समृद्धि योजना जैसे चाइल्डकैअर कार्यक्रमों में निवेश के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। इसके अलावा बेहतर लिंगानुपात सुनिश्चित करने के लिए ग्राम पंचायतों और स्थानीय निकायों को भी पुरस्कार दिए जाएंगे।
  • इस योजना के माध्यम से बच्चे को सकारात्मक माहौल और निरंतर प्रोत्साहन मिलेगा। आज तक इस योजना के तहत 3,937,000 लड़कियों का पंजीकरण किया गया है और लक्ष्मी निधि में 9,150 रुपये जमा किए गए हैं। इसके अलावा सरकार ने स्कूलों में 591203 महिला छात्रों को 136 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान की है।

Also Check:

एमपी लाडली लक्ष्मी योजना 2021 (MP Ladli Laxmi Yojana 2021)

1 thought on “एमपी लाडली लक्ष्मी योजना छात्रवृति (MP Ladli Laxmi Yojana Scholarship)”

  1. Pingback: लाडली लक्ष्मी योजना 2021 का उद्देश्य - Hindii.net

Leave a Comment

Your email address will not be published.

instagram volgers kopen volgers kopen buy windows 10 pro buy windows 11 pro