What Is The Difference Between Mass And Weight In Hindi | द्रव्यमान और भार में अंतर

द्रव्यमान और भार में क्या अंतर है ? (What Is The Difference Between Mass And Weight In Hindi )

द्रव्यमान ( Mass ) मतलब किसी भी वस्तु में उसमें पदार्थ (Matter) की मात्रा का माप है। भार (Weight ) मतलब किसी भी वस्तु पर गुरुत्वाकर्षण (Gravity) द्वारा लगाया गया बल (Force)।

अगर आपको समझ नही आया तो अब में आपको Example के साथ समझाता हूं।

द्रव्यमान किसे कहते हैं? | द्रव्यमान का अर्थ

किसी वस्तु का द्रव्यमान उस वस्तु में उपस्थित पदार्थ के परिमाण को कहते हैं।

इसका मान पृथ्वी ,अंतरिक्ष या अन्य ग्रह में सभी जगह समान होता है।

द्रव्यमान एक  आदिश राशि है इसका मात्रक किलोग्राम होता है।

द्रव्यमान (Mass) का क्या मतलब है? (What Is Mean By Mass In Hindi)

द्रव्यमान ( Mass ) मतलब किसी भी वस्तु में उसमें पदार्थ (Matter) की मात्रा का माप है।

मान लीजिए आपका Weight 49 Kg हैं। आपने गुरुत्वाकर्षण शक्ति का कभी ना कभी नाम सुना ही होगा। गुरुत्वाकर्षण शक्ति मतलब कोई चीज आपको अपने पास कितने बल (Force) खींच लेती है? जैसे की चुंबक (Magnet) किसी भी धातु (Metal) के पास लेके जाए तो वो उस धातु को अपने पास खींच लेता है। उसी तरह हमारी पृथ्वी (Earth) किसी भी चीज को अपने तरह खींच लेती है। अगर हम गेंद (Ball) को हवा में फेके तो वो उसको पृथ्वी अपने तरह खींच लेती है। अब आपको याद आया होगा न्यूटन की कथा। उसके सिर पर सेब गिरा फिर उसने सोचा ये ऊपर क्यों नहीं गया नीचे ही क्यों आया। फिर उसने गुरुत्वाकर्षण शक्ति (Gravitational Force) को खोज की।

चलिए हम अपने टॉपिक पर वापिस आते हैं की द्रव्यमान (mass) का क्या मतलब है? अब तक आपने गुरुत्वाकर्षण शक्ति के बारे सिख लिया। तो द्रव्यमान मतलब उस गुरुत्वाकर्षण शक्ति का विचार किए बिना पदार्थ का माप। जैसे की हमने माना था की आपका Weight 49 Kg हैं। ये तो हो गया आपका weight। इस धरती कोई भी चीज मतलब एक पदार्थ है। तो आप भी एक पदार्थ हो गए। गुरुत्वाकर्षण शक्ति का विचार किए बिना आपका माप मतलब आपका द्रव्यमान हुआ। जैसे की पृथ्वी का गुरुत्वाकर्षण बल 9.8 m/s² है तो इसका विचार किए बिना मतलब आप अपने Weight को 9.8 से विभाजित (Divide) करे। आपका Weight 49 Kg है तो 49 को 9.8 से विभाजित करे।

49 ÷ 9.8 = 5 मात्रक (units)

तो आपका द्रव्यमान (mass) हुआ 5 मात्रक (units)। द्रव्यमान का कोई मात्रक नही होता इसलिए उसके आगे मात्रक (units) लिखा जाता है। अब आप किसी भी चीज का द्रव्यमान निकाल सकते है। अब हम Weight को समझते हैं।

भार किसे कहते हैं? भार की इकाई

पृथ्वी प्रत्येक वस्तु को अपने केंद्र की ओर आकर्षित करते हैं।

अतः “किसी वस्तु पर पृथ्वी द्वारा लगाया गया आकर्षण बल वस्तु का भार कहलाता है।”

भार की दिशा पृथ्वी की केंद्र की ओर सदैव होती है। भार में दिशा और परिणाम दोनों होता है।

इस वजह से यह सदिश राशि होती है।

इसका मात्रक न्यूटन अथवा किलोग्राम- भार होता है।

भार (Weight) का क्या मतलब है? (What Is Mean By Weight In Hindi)

भार (Weight ) मतलब किसी भी वस्तु पर गुरुत्वाकर्षण (Gravity) द्वारा लगाया गया बल (Force)।

हमने द्रव्यमान का मतलब सिख लिया। तो चलिए जानते है भार (Weight) क्या होता है। जैसे की आपका Weight था 49 kg उसको 9.8 से विभाजित किया तो आपका Mass हुआ 5 मात्रक (units)। संसार में कही भी जाए तो आपका द्रव्यमान (Mass) एक (same) ही रहेगा। आप संसार में कही ही जाए कौन से भी ग्रह (planet) पर जाए तो भी आपका द्रव्यमान (Mass) एक (same) ही रहेगा। लेकिन आपका भार (Weight) हर ग्रह (planet) पर बदलता रहेगा। जैसे की आपका भार (Weight) पृथ्वी पर 49 Kg है तो मंगल (Mars) पर वही आपका 18.55 Kg होगा। ऐसा क्यों होता है।

पृथ्वी पर गुरुत्वाकर्षण बल 9.8 m/s² है वही मंगल ग्रह 3.711 m/s² है। हर ग्रह पर गुरुत्वाकर्षण बल अलग अलग होता है। लेकिन आपका द्रव्यमान (Mass) हर किसी ग्रह पर सेम ही रहता है। आपका द्रव्यमान (mass) 5 मात्रक (units) है तो इस द्रव्यमान को 3.711 से गुनिए (multiply करे)।

5 x 3.711 = 18.55 Kg

यानी की मंगल ग्रह पर आपका भार (Weight) 18.55 Kg होगा।

अलग अलग ग्रह की गुरुत्वाकर्षण शक्ति।

ग्रह (Planet)गुरुत्वाकर्षण बल (Gravitational Force) m/s²
बुध (Mercury)3.6
शुक्र (Venus)8.9
पृथ्वी (Earth)9.8
मंगल (Mars)3.8
बृहस्पति (Jupiter)26
शनि (Saturn)11.1
अरुण (Urenus)10.7
वरुण (Neptune)14.1

द्रव्यमान और भार में सम्बन्ध

भार = द्रव्यमान × गुरुत्वीय त्वरण

द्रव्यमान और भार में अंतर

क्र०सं०द्रव्यमानभार
1वस्तु में उपस्थित पदार्थ की मात्रा को उसका द्रव्यमान कहा जाता है।किसी वस्तु का भार उस बल के बराबर होता।जिससे पृथ्वी उस वस्तु को आकर्षित करती है।
2द्रव्यमान का मात्रक किलोग्राम होता है।भार का मात्रक न्यूटन अथवा किलोग्राम होता है।
3द्रव्यमान का मान किसी भी स्थान पर समान रहता है।वस्तु का भार गुरुत्वीय त्वरण के परिवर्तन के कारण भिन्न-भिन्न स्थानों पर भिन्न-भिन्न होता है।
4द्रव्यमान एक अदिश राशि हैं।भार सदिश राशि होती हैं।
5द्रव्यमान को भौतिक तुला से नापा जा सकता है।भार ज्ञात करने के लिए कमानीदार तुला का प्रयोग करते हैं।

आज क्या सीखा आपने।

मुझे उम्मीद है मेरी द्रव्यमान और भार में क्या अंतर है (What is the difference between Mass and Weight in hindi ) यह लेख पसंद आया होगा। आपको जो द्रव्यमान और भार में जो अंतर है वो समझ आया होगा।

FAQs Related To द्रव्यमान और भार में अंतर

Q 1. द्रव्यमान का मात्रक क्या है?

Ans. किलोग्राम

Q 2. भार का मात्रक क्या है?

Ans. न्यूटन

Q 3. भार का मात्रक क्या है?

Ans. अदिश राशि

Q 4. भार का मात्रक क्या है?

Ans. सदिश राशि

Leave a Comment

Your email address will not be published.

instagram volgers kopen volgers kopen buy windows 10 pro buy windows 11 pro